भारत में वर्तमान में 28 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश मौजूद हैं। यहां प्रत्येक राज्य और केंद्र शासित प्रदेश की अपनी-अपनी विशेषता है। साथ ही यहां मौजूद सरस-संस्कृति और विविधता इन्हें एक-दूसरे से खास बनाती है। आपने भारत के अलग-अलग जिलों के बारे में पढ़ा और सुना होगा। हालांकि, क्या आप जानते हैं कि भारत के तीन सबसे छोटे जिले कौन-से हैं और यह किस राज्य में मौजूद हैं। यदि नहीं जानते हैं, तो इस लेख के माध्यम से हम इस बारे में जानेंगे।  

कहां स्थित है भारत का सबसे छोटा जिला

सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि भारत का सबसे छोटा जिला कहां स्थित है, तो आपको बता दें कि भारत का सबसे छोटा जिला पुडुचेरी में स्थित है। 

कौन-सा है भारत का सबसे छोटा जिला

अब सवाल है कि भारत का सबसे छोटा जिला कौन-सा है, तो आपको बता दें कि भारत का सबसे छोटा जिला पुडुचेरी का माहे जिला है। यह जिला सिर्फ 9 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। इसके साथ ही यहां की आबादी की बात करें, तो यहां साल 2011 में 41,816 की आबादी दर्ज की गई थी। हालांकि, यहां सकारात्मक चीज यहां की साक्षरता दर भी है, जो कि 97.8 फीसदी है। 

कहां है भारत का दूसरा सबसे छोटा जिला

भारत का दूसरा सबसे छोटा जिला कहीं और नहीं, बल्कि दिल्ली में है, जिसे हम शहरों के शहर के रूप में भी जानते हैं।

कौन-सा है दूसरा सबसे छोटा जिला

अब सवाल है कि भारत का दूसरा सबसे छोटा जिला कौन-सा है, तो आपको बता दें कि यह दिल्ली का मध्य जिला है, जो कि कुल 21 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। साल 2011 में यहां की कुल आबादी 58,23,20 दर्ज की गई थी, जबकि यहां की कुल साक्षरता दर 85.14 फीसदी दर्ज हुई थी। मध्य जिले में ही मशहूर लाल किला और जामा मस्जिद स्थित है, जो कि पुरानी दिल्ली यानि कि शाहजहांनाबाद में आता है। इसके साथ ही दिल्ली का यह जिला अपने मुगलई खान-पान के लिए भी जाना जाता है।

भारत का तीसरा सबसे छोटा जिला

अब सवाल है कि भारत का तीसरा सबसे छोटा जिला कौन-सा है, तो आपको बता दें कि यह लक्षद्वीप है, जो कि 32 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। साल 2011 में यहां की कुल आबादी 70,365 दर्ज की गई थी। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × five =

error: Content is protected !!
Scroll to Top