पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी

1. ‘Eहन्ग्rदहसहू’ शब्द की उत्पत्ति किस
भाषा से हुई है?
(अ) अंग्रेजी (ब) प्रâेंच
(स) इटालियन (द) जर्मन
2. निम्नलिखित में से कौन-से पर्यावरण
प्राकृतिक घटक में सम्मिलित हैं?
(अ) सड़क एवं स्थल (ब) जल एवं वायु
(स) पार्क एवं संस्कृति (द) मृदा एवं पुल
3. पारिस्थितिकी तन्त्र की विचारधारा का
प्रतिपादन किस विद्वान ने किया था?
(अ) डार्विन
(ब) टेन्सले
(स) 1 और 2 दोनों
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
4. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए।
A. पर्यावरण मानवीय क्रियाकलाप को
अप्रत्यक्ष रूप से ही प्रभावित करता है।
ँ. प्रâेंच में पर्यावरण का अर्थ आस-पड़ोस
से होता है।
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(अ) केवल A (ब) केवल ँ
(स) A और ँ (द) न तो A और न ही ँ
5. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है?
A. पारिस्थितिक तन्त्र के अध्ययन को
पारिस्थितिक कहा जाता है।
ँ. पारिस्थितिक तन्त्र प्रकृति की क्रियात्मक
इकाई होती है।
ण्. उष्णकटिबन्धीय पारितन्त्र सबसे उत्पादक
पारितन्त्र होता है।
कूट
(अ) A और ँ
(ब) A और ण्
(स) ँ और ण्
(द) A, ँ और ण्
6. निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए।
जैविक घटक घटक
घ्. उत्पादक A. लोमड़ी
घ्घ्. उपभोक्ता ँ. कवक
घ्घ्घ्. अपघटनकर्ता ण्. पौधे
कूट
A ँ ण्
(अ) घ् घ्घ् घ्घ्घ्
(ब) घ्घ् घ्घ्घ् घ्
(स) घ् घ्घ्घ् घ्घ्
(द) घ्घ्घ् घ्घ् घ्
7. खाद्य शृंखला के सम्बन्ध में निम्न कथनों
पर विचार कीजिए।
A. ऊर्जा का मुख्य स्रोत सूर्य है।
ँ. खाद्य ऊर्जा का प्रवाह एक दिशीय
होता है।
516 ण्ऊEऊ ु³ुदु ‘स्ड्डैं्नa ह`स्द्म््aळr` Aर्ह्राौं E्श्च् ढारसस्ड्ड़
पृथ्वी सम्मेलन, 1992 यह सम्मेलन पर्यावरण और विकास को केन्द्र में
रखता है। जिसके लिए एक दस्तावेज जारी किया गया, जो एजेण्डा-21 के
नाम से जाना जाता है। इस सम्मेलन में पहली बार सतत विकास,
जैव-विविधता संरक्षणों व जल संकट तथा जलवायु परिवर्तन जैसे ज्वलन्त
विषयों पर व्यापक चर्चा की गई थी।
8.3.2. ्रस्aन्न् ‘| हास्द्म््aळ ुश्च्aरळ
भारत में 19 नवम्बर, 1986 को पर्यावरण संरक्षण अधिनियम, 1986 को
लागू किया गया। यह अधिनियम 1972 में हुए विश्व पर्यावरण पर संयुक्त
राष्ट्र सम्मेलन के घोषणा-पत्रों को लागू करने के लिए प्रतिबद्धता स्वरूप
पारित किया गया था।
8.3.3 हास्द्म््aळ ुश्च्aरळ ुह्।Ýभ्r ळ्‘ैघ् Aर्स्Ýेंर्स्दंैं
चिपको आन्दोलन इस आन्दोलन के नेता सुन्दरलाल बहुगुणा थे इस
आन्दोलन में महिलाएँ पेड़ों से चिपककर उनकी रक्षा करती थीं। यह
उत्तराखण्ड के चमोली जिले के गोपेश्वर शहर से प्रारम्भ हुआ।
पर्यावरण संरक्षण के अन्य आन्दोलनों में अप्पिको आन्दोलन प्रमुख है,
जिसके प्रणेता पाण्डुरंग हेगड़े थे। यह चिपको आन्दोलन जैसा ही था, जिसकी
शुरुआत वर्ष 1993 में, कर्नाटक में हुई थी।
वनसंरक्षण भारत में वनोन्मूलन के लिए कई कारक उत्तरदायी हैं, जैसे—
कृषि का विस्तार स्थानान्तरित कृषि, जलाने के लिए लकड़ी, लकड़ी उद्योग,
पहाड़ी क्षेत्रों में ढलान पर कृषि, खनन, बड़े-बड़े बाँधों का निर्माण इत्यादि।
ऐसे में वनों के संरक्षण एवं वृक्षारोपण के लिए सरकार ने कई कार्यक्रम
चलाए हैं ताकि वनों को संरक्षित किया जाए। इसी क्रम में वर्ष 2006 में
भारत के जनजाति मन्त्रालय के द्वारा वनों के अधिकार के सम्बन्ध में एक
विधेयक (जंगल/वन अधिकार कानून, 2007) लाया गया जो 31 दिसम्बर,
2007 (इसके अन्तर्गत व्यक्ति का वन भूमि और उसमें होने वाली उपज पर
अधिकार हो जाता है, जो वनों में कम-से-कम 25 वर्षों से रह रहे होते हैं)
से प्रभावी हुआ है।
8.3.4 हास्द्म््aळ ुश्च्aरळ ुह्।Ýह्रस्r हैaड्डप्त्र् स्a
त् इन्दिरा गाँधी पर्यावरण पुरस्कार इसकी शुरुआत वर्ष 1987 में हुई थी। यह
संगठन या व्यक्तिगत स्तर पर अतुलनीय योगदान के लिए दिया जाता है।
त् राजीव गाँधी पर्यावरण पुरस्कार इसकी शुरुआत वर्ष 1993 में हुई थी।
यह पर्यावरणीय संरक्षण सम्बन्धी योजनाएँ लागू करने वाले औद्योगिक
संस्थानों को दिया जाता है।
त् विश्व में पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करने वाली संस्था ेंंइ (वर्ल्ड
वाइल्ड लाइफ फण्ड फॉर नेचर) है। इसके अतिरिक्त वैश्विक स्तर पर
पर्यावरणीय सम्बन्धित कार्यक्रमों को क्रियान्वित करने हेतु 1972 में, संयुक्त
राष्ट्र संघ के तत्वावधान में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (ळर्‍Eझ्) का
गठन किया गया। इसका मुख्यालय नैरोबी में स्थित है।
ए्नस्ष्ट ध्स्ढप्त्र् a प्þुख्रर््ैं
यह भारत के पूर्व राष्ट्रपति रहे हैं। इन्होंने बच्चों से सम्बन्धित कई कहानियाँ
लिखी हैं। इन्हीं कहानियों में से एक में इन्होंने बच्चों को कठफोड़वा की
जीवन-शैली के बारे में बताया है। इन्होंने बच्चों को वनों की प्रासंगिकताओं को भी
बताने का कार्य किया है।
आपदा
आपदा को मुख्य रूप से दो वर्गों में वर्गीकृत किया जा सकता है
(ग्) प्राकृतिक आपदा सूखा, बाढ़, सुनामी, भूकम्प (गुजरात में 26 जनवरी,
2001 को भूकम्प आया था)।
(ग्ग्) मानव जनित आपदा भोपाल गैस त्रासदी, चेरनोबिस दुर्घटना।
Aäास्ु र्ळैं
ण्. यह विभिन्न जीवों का एक क्रम होता है
जिसके द्वारा खाद्य ऊर्जा का प्रवाह
होता है।
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(अ) A और ँ (ब) A और ँ
(स) ँ और ण् (द) A, ँ और ण्
8. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए।
A. खाद्य शृंखलाओं का समूह खाद्य जाल
कहलाता है।
ँ. खाद्य जाल में ऊर्जा का स्थानान्तरण
केवल एक दिशा में ही होता है।
ण्. खाद्य जाल पृथ्वी के प्राकृतिक सन्तुलन
के लिए आवश्यक होता है।
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(अ) A और ँ (ब) A और ण्
(स) ँ और ण् (द) A, ँ और ण्
9. भारत में वनोन्मूलन के लिए उत्तरदायी
कारक कौन है?
A. कृषि का िवस्तार ँ. खनन
ण्. स्थानान्तरित कृषि D. वृक्षारोपण
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(अ) A और ँ (ब) ँ और ण्
(स) ँ, ण् और D (द) A, ँ और ण्
10. निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए।
अन्तर्राष्ट्रीय
सम्मेलन
पहल
घ्. स्टॉकहोम
सम्मेलन, 1972
A. एक ही पृथ्वी
घ्घ्. पृथ्वी सम्मेलन,
1992
ँ. एजेण्डा 21
घ्घ्घ्. स्टॉकहोम
सम्मेलन, 1972
ण्. 5 जून पर्यावरण
दिवस
कूट
A ँ ण्
(अ) घ् घ्घ् घ्घ्घ्
(ब) घ्घ्घ् घ्घ् घ्
(स) घ्घ् घ् घ्घ्घ्
(द) घ्घ्घ् घ् घ्घ्
11. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए।
A. पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986 को
लागू किया गया।
ँ. पृथ्वी सम्मेलन वर्ष 1992 के केन्द्र में
पर्यावरण और विकास था।
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(अ) केवल A
(ब) केवल ँ
(स) A और ँ दोनों
(द) न तो A और नहीं ँ
12. अप्पिको आन्दोलन का सम्बन्ध किस राज्य
से है?
(अ) बिहार (ब) उत्तराखण्ड
(स) कर्नाटक (द) उत्तर प्रदेश
13. जैव-विविधता दिवस कब मनाया जाता है?
(अ) 22 अप्रैल (ब) 5 जून
(स) 22 मई (द) 3 अक्टूबर
14. वन महोत्सव किस-किस माह में मनाया
जाता है?
(अ) जुलाई और जनवरी (ब) जुलाई और फरवरी
(स) जुलाई और मार्च (द) जुलाई और अप्रैल
15. निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए।
दिवस तिथि
घ्. पृथ्वी दिवस A. 5 जून
घ्घ्. पर्यावरण दिवस ँ. 22 अप्रैल
घ्घ्घ्. पर्यावरण संरक्षण
दिवस
ण्. 3 अक्टूबर
घ्न्न्. प्रकृति दिवस D. 26 नवम्बर
कूट
A ँ ण् D
(अ) घ् घ्घ् घ्घ्घ् घ्न्न्
(ब) घ्घ् घ् घ्न्न् घ्घ्घ्
(स) घ्न्न् घ्घ्घ् घ्घ् घ्
(द) घ्घ्घ् घ् घ्घ् घ्न्न्
16. किसके नेतृत्व में ‘चिपको आन्दोलन’ को
बल मिला? डण्ऊEऊ व्ल्ह 2011़
(अ) ए. के. बेनर्जी (ब) सुन्दरलाल बहुगुणा
(स) अमृता देवी बिश्नोई (द) मेधा पाटक
17. कक्षा न्न् की पर्यावरण अध्ययन की
पाठ्य-पुस्तक का एक पाठ ‘उसी से ठण्डा
उसी से गर्म’ डॉ जाकिर हुसैन द्वारा लिखी
गई एक कहानी है। उन्होंने बच्चों के लिए
ऐसी कई कहानियाँ लिखी हैं। अपनी मृत्यु
के समय वे थे डण्ऊEऊ एाज् 2015़
(अ) भारत के मुख्य न्यायाधीश
(ब) भारत के उपराष्ट्रपति
(स) भारत के राष्ट्रपति
(द) भारत के प्रधानमन्त्री
18. ‘‘जो व्यक्ति जंगल में कम-से-कम 25 वर्षों
से रह रहे हैं उनका उस जंगल-भूमि पर
और उसमें पैदा होने वाली वस्तुओं पर
अधिकार है।’’ यह जनादेश किसके द्वारा
दिया गया है? डण्ऊEऊ एाज् 2016़
(अ) संविधान (अनुसूचित जाति) आदेश (संशोधन)
विधेयक, 2012
(ब) भारतीय जंगल अधिनियम, 1927
(स) जंगल अधिकार अधिनियम, 2007
(द) भूमि अधिग्रहण अधिनियम, 1894
19. ताजमहल के पीले होने के लिए
निम्नलिखित में से कौन-सा कारक
जिम्मेदार है? डण्ऊEऊ अम् 2018़
(अ) क्लोरीन
(ब) नाइट्रोजन डाइऑक्साइड
(स) सल्फर डाइऑक्साइड
(द) सल्फर
20. भारत में ठण्डे रेगिस्तान मानसून से प्रभावित
क्यों नहीं होते हैं? डण्ऊEऊ अम् 2018़
(अ) ठण्डे रेगिस्तान बहुत ऊँचाई पर हैं।
(ब) ठण्डे रेगिस्तानों में गर्म गर्मियाँ और बेहद
ठण्डी सर्दियाँ होती हैं।
(स) ठण्डे रेगिस्तान हिमालय की वृष्टि-छाया में
होते हैं।
(द) ठण्डे रेगिस्तानों में हवा बहुत पतली (कम) होती है।
21. हमारे देश के एक जंगल में, उस जंगल के
लोगों (आदिवासी) को खेती के लिए
जमीन ग्राम सभा (पंचायत) द्वारा एक
विशेष मात्रक (यूनिट अथवा इकाई) में
जिसे ‘टिन’ कहते हैं, आवण्टित की जाती
है। टिन क्या है? डण्ऊEऊ व्ल्त् 2019़
(अ) यह भूमि का मात्रक है, जिसकी अभिकल्पना
विशेष रूप से जंगलों में रहने वाले किसानों के
लिए की गई है।
(ब) वह भूमि, जिसकी विमाएँ 100 मी × 100 मी
हैं।
(स) वह भूमि, जिस पर कोई किसान एक टिन
बीज बोता है।
(द) वह भूमि, जिससे कोई किसान एक टिन बीज
उत्पन्न करता है।
22. एन. सी. ई. आर. टी. के ई. वी. एस. के
अध्याय 15 कक्षा 5 में ‘उसी से ठण्डा,
उसी से गर्म’ नामक डॉ. जाकिर हुसैन द्वारा
रचित एक कहानी का प्रयोग किया गया है।
इस कहानी का मुख्य उद्देश्य विकसित
करना है डण्ऊEऊ अम् 2021़
(अ) प्राथमिक स्तर पर साँस लेने और छोड़ने की
प्रक्रिया की समझ
(ब) जलचक्र के प्रत्यय का
(स) संघनन की प्रक्रिया
(द) छात्रों की रुचियाँ
23. वे व्यक्ति जो वनों में कम-से-कम 25 वर्षों
से रह रहे हैं, उनका वन भूमि और उसमें
होने वाली उपज पर अधिकार हो जाता है।
यह एक्ट लिया गया है। डण्ऊEऊ व्aह 2022़
(अ) भारतीय वन संशोधन एक्ट, 2019 से
(ब) वन एक्ट के अधिकार, 2007 से
(स) राष्ट्रीय वन नीति, 1988 से
(द) भारतीय वन एक्ट, 1927 से
24. किस वर्ष भुज (गुजरात) में भूकम्प आया
था जिसमें कम-से-कम हजार लोगों की
मृत्यु हो गई थी? डण्ऊEऊ व्aह 2021़
(अ) वर्ष 2000 (ब) वर्ष 2001
(स) वर्ष 2004 (द) वर्ष 2002

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 3 =

error: Content is protected !!
Scroll to Top