बच्चों में सोचना एवं सीखना

1. अनुकरण का अर्थ होता है
(अ) किसी की नकल करना
(ब) स्वयं की मौलिकता
(स) मौलिकता एवं नकल दोनों का मिला-जुला रूप
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं

View Solution

2. बालकों में सोचने की प्रक्रिया के विकास का क्रम होता है
(अ) निश्चित क्रम
(ब) अनिश्चित क्रम
(स) निश्चित तथा अनिश्चित दोनों
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
View Solution

3. किस अवस्था में व्यक्ति अमूर्त वस्तुओं के बारे में सोचना प्रारम्भ कर देता है?
(अ) बाल्यावस्था में
(ब) किशोरावस्था में
(स) प्रौढ़ावस्था में
(द) उपरोक्त सभी
View Solution

4. कोई बालक अपने चारों ओर के भौतिक और मनोवैज्ञानिक परिवेश को देखकर सीखता है यह प्रक्रिया कहलाएगी
(अ) प्रत्यक्षीकरण (देखकर) के आधार पर
(ब) कल्पना के आधार पर
(स) तर्क के आधार पर
(द) अनुकरण के आधार पर
View Solution

5. निम्न में से कौन बालकों में सोचने की प्रक्रिया का अंग नहीं है?
(अ) प्रत्यक्षीकरण की प्रक्रिया
(ब) कल्पना की प्रक्रिया
(स) तर्क की प्रक्रिया
(द) समावेशन की प्रक्रिया
View Solution

6. किसी बालक में तर्क के आधार पर सोचने की क्षमता के विकास के लिए आवश्यक तत्त्व है
(अ) भाषा सम्प्रेषण में निपुणता
(ब) असीमित कल्पना शक्ति
(स) बालक के समक्ष अनेक समस्याएँ 
(द) उसकी बोलने की गति
View Solution

7. तर्क करने की एक ऐसी विधि, जो पूर्वधारण से आरम्भ होती है कहलाती है
(अ) निगमनात्मक तर्क
(ब) आगमनात्मक तर्क
(स) निगमनात्मक तथा आगमनात्मक दोनों
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
View Solution

8. आगमनात्मक तर्कणा चलती है
(अ) विशिष्ट से सामान्य की ओर
(ब) सामान्य से विशिष्ट की ओर
(स) सामान्य से सामान्य की ओर
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
View Solution

9. प्रकाश कक्षा दो का विद्यार्थी है वह अपनी सोच की प्रक्रिया को अभिरुचि एवं उत्सुकता के आधार पर बढ़ा रहा है वह सोच की किस प्रक्रिया की तरफ अग्रसर है?
(अ) रुचि एवं जिज्ञासा की प्रक्रिया
(ब) अनुकरण की प्रक्रिया
(स) तर्क की प्रक्रिया
(द) कोई प्रक्रिया नहीं
View Solution

10. ‘‘बालकों में सोचने की योग्यता सफल जीवन के लिए आवश्यक है।’’ निम्न में से यह मत किसका है?
(अ) पियाजे
(ब) क्रो एवं को

(स) स्किनर
(द) पैवलॉव
View Solution

11. बच्चे के सोचने की प्रक्रिया में किस आधार पर सोचने को सबसे उच्च माना गया है?
(अ) रुचि के आधार पर सोचना
(ब) अनुभव के आधार पर सोचना
(स) तर्क के आधार पर सोचना
(द) अनुकरण के आधार पर सोचना
View Solution

12. ‘‘सीखना अनुभव एवं व्यवहार में परिवर्तन है।’’ यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है?
(अ) जेक्सन
(ब) एण्डरसन

(स) एमुण्डसेन
(द) फ्रेण्डसन
View Solution

13. सीखना कोई ………. और सीधी ………. होती है, बल्कि यह जटिल, बहुआयामी और गतिशील प्रक्रिया है।
(अ) आसान; प्रक्रिया
(ब) आसान; प्रक्रिया नहीं
(स) कठोर; प्रक्रिया नहीं
(द) कठोर; प्रक्रिया
View Solution

14. ‘‘अनुभव द्वारा व्यवहार में रूपान्तर लाना ही अधिगम है।’’ यह कथन किससे सम्बन्धित है?
(अ) गेट्स
(ब) पील

(स) क्रो एवं क्रो
(द) वाइगोत्स्की
View Solution

15. कथन (A) सीखना किसी की मध्यस्था के बिना नहीं हो सकता है।
कारण (R) बच्चे व्यक्तिगत स्तर पर एवं दूसरों से भी विभिन्न तरीकों से सीखते हैं।
कूट:
(अ) कथन (A) और कारण (R) दोनों सही हैं।
(ब) कथन (A) और कारण (R) दोनों गलत है।
(स) कथन (A) सही व कारण (R) गलत है।
(द) कथन (A) गलत व कारण (R) सही है।
View Solution

16. सीखने से सम्बन्धित ‘तत्परता का नियम’ किसने दिया है?
(अ) थॉर्नडाइक ने
(ब) पैवलॉव ने

(स) ई. ए़ पील ने
(द) मॉस्लो ने
View Solution

17. सीखने से सम्बन्धित ‘प्रबलन का सिद्धान्त’ निम्न मनोवैज्ञानिकों में से किससे सम्बन्धित है?
(अ) सी. एल़ हल से
(ब) वाइगोत्स्की से

(स) पियाजे से
(द) फ्रॉयड से
View Solution

18. बच्चों में सीखने के लिए आवश्यक तत्त्व हैं
A. अभ्यास
B. तत्परता
C. अन्त:दृष्टि
कूट:
(अ) केवल A
(ब) केवल B

(स) केवल C
(द) A, B और C
View Solution

19. यदि कोई बालक किसी कार्य को बार-बार दोहराता है, तो वह थॉर्नडाइक के किस नियम का अनुपालन करता है?
(अ) तत्परता का नियम
(ब) अभ्यास का नियम
(स) प्रभाव का नियम
(द) उपरोक्त सभी
View Solution

20. सीखने की प्रक्रिया के महत्त्वपूर्ण साधन क्या हो सकते हैं?
(अ) अर्थ निकालना
(ब) अमूर्त सोच की क्षमता विकसित करना
(स) विवेचना का कार्य करना
(द) उपरोक्त सभी
View Solution

21. ‘‘जब सीखने का अर्थ किसी उद्देश्य या इच्छा को सन्तुष्ट करना होता है।’’ इस कथन का सम्बन्ध किससे है?
(अ) थॉर्नडाइक से
(ब) वाशबर्न से
(स) मॉस्लो से
(द) हर्जबर्ग से
View Solution

22. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए
A. सीखना अनुभव या व्यवहार में परिवर्तन है।
B. सीखना एक जटिल एवं बहुआयामी पद्धति है।
C. बच्चे व्यक्तिगत स्तर पर एक-दूसरे से विभिन्न तरीकों से सीखते हैं।
D. तर्क एवं वाद-विवाद का सोचने की प्रक्रिया में कोई स्थान नहीं होता है।
उपरोक्त कथनों में कौन-सा/से कथन सत्य है/हैं?
(अ) केवल A
(ब) A और B

(स) केवल D
(द) A, B और C
View Solution

23. सीखना समृद्ध हो सकता है यदि
(अ) वास्तविक दुनिया से उदाहरणों को कक्षा में लाया जाए जिसमें विद्यार्थी एक-दूसरे से अन्त:क्रिया करें और शिक्षक उस प्रक्रिया को सुगम बनाए।
(ब) कक्षा में अधिक-से-अधिक शिक्षण-सामग्री का प्रयोग किया जाए।
(स) शिक्षक विभिन्न प्रकार के व्याख्यान और स्पष्टीकरण का प्रयोग करें।
(द) कक्षा में आवधिक परीक्षाओं पर अपेक्षित ध्यान दिया जाए।
View Solution

24. बच्चों की सीखने की प्रक्रिया में माता-पिता को ………. भूमिका निभानी चाहिए।
(अ) नकारात्मक
(ब) अग्रोन्मुखी
(स) सहानुभूतिपूर्ण
(द) तटस्थ
View Solution

25. विवेचनात्मक शिक्षाशास्त्र का यह दृढ़ विश्वास है कि 
(अ) एक शिक्षक को हमेशा कक्षा-कक्ष के अनुदेशन का नेतृत्व करना चाहिए।
(ब) शिक्षार्थियों को स्वतन्त्र रूप से तर्कणा नहीं करनी चाहिए।
(स) बच्चे स्कूल से बाहर क्या सीखते हैं, यह अप्रासंगिक है
(द) शिक्षार्थियों के अनुभव और प्रत्यक्षण महत्त्वपूर्ण होते हैं
View Solution

26. प्राय: शिक्षार्थियों की त्रुटियाँ ………. की ओर संकेत करती हैं। 
(अ) शिक्षार्थियों के सामाजिक-आर्थिक स्तर
(ब) वे कैसे सीखते हैं?
(स) यान्त्रिक अभ्यास की आवश्यकता
(द) सीखने की अनुपस्थिति
View Solution

27. वे शिक्षार्थी, जो संवृद्ध ज्ञान और शैक्षणिक दक्षता की हार्दिक इच्छा प्रदर्शित करते हैं, उनके पास होता है
(अ) निष्पादन-परिहार अभिविन्यास
(ब) कार्य-परिहार अभिविन्यास
(स) नैपुण्यता अभिविन्यास
(द) निष्पादन-उपागम अभिविन्यास
View Solution

28. जब बच्चा कार्य करते हुए ऊबने लगता है, तो यह इस बात का संकेत है कि
(अ) बच्चे को अनुशासित करने की आवश्यकता है
(ब) सम्भवत: कार्य यान्त्रिक रूप से बार-बार हो रहा है
(स) बच्चा बुद्धिमान नहीं है
(द) बच्चे में सीखने की योग्यता नहीं है
View Solution

29. जब बच्चा फेल होता है, तो इसका तात्पर्य है कि
(अ) बच्चा पढ़ाई के लिए योग्य नहीं है
(ब) बच्चे ने उत्तरों को सही तरीके से याद नहीं किया है
(स) बच्चे को प्राइवेट ट्यूशन लेनी चािहए थी
(द) व्यवस्था फेल हुई है
View Solution

30. बच्चों में सीखी गई निस्सहायता का कारण है 
(अ) इस व्यवहार को अर्जित कर लेना कि वे सफल नहीं हो सकते
(ब) कक्षा गतिविधियों के प्रति कठोर निर्णय
(स) अपने अभिभावकों की अपेक्षाओं के साथ तालमेल न बना पाना
(द) अध्ययन को गम्भीरतापूर्वक न लेने हेतु नैतिक निर्णय
View Solution

31. निगमनात्मक तर्कणा में शामिल है/हैं
(अ) सामान्य से विशिष्ट की ओर तर्कणा
(ब) विशिष्ट से सामान्य की ओर तर्कणा
(स) ज्ञान का सक्रिय निर्माण और पुनर्निर्माण
(द) अन्वेषणपरक सीखना और स्वत: खोजपरक सम्बन्धी पद्धतियाँ
View Solution

32. बच्चे 
(अ) चिन्तन में वयस्कों की भाँति ही होते हैं और ज्यों-ज्यों वे बड़े होते हैं, उनके चिन्तन में गुणात्मक वृद्धि होती है।
(ब) खाली बर्तन के समान होते हैं जिसमें बड़ों के द्वारा दिया गया ज्ञान भरा जाता है।
(स) निष्क्रिय जीव होते हैं जो प्रदत्त सूचना को ज्यों-की-त्यों प्रतिलिपि के रूप में प्रस्तुत कर देते हैं।
(द) जिज्ञासु प्राणी होते हैं, जो अपने चारों ओर के जगत को खोजने के लिए अपने ही तर्कों एवं क्षमताओं का उपयोग करते हैं
View Solution

33. शिक्षार्थियों से यह अपेक्षा करना कि वे ज्ञान को उसी रूप में पुन: प्रस्तुत कर देंगे जिस रूप में उन्होंने ग्रहण किया है
(अ) अच्छा है, क्योंकि यह शिक्षक के लिए आकलन में सरल है।
(ब) एक प्रभावी आकलन युक्ति है।
(स) समस्यात्मक है, क्योंकि व्यक्ति अनुभवों की व्याख्या करते हैं और ज्ञान को ज्यों-का त्यों पुन: उत्पादित नहीं करते।
(द) अच्छा है, क्योंकि जो भी हमारे मन में है हम उसे रिकॉर्ड करने लगते हैं।
View Solution

34. बच्चे प्रभावी रूप से सीखते हैं जब
(अ) वे विभिन्न गतिविधियों एवं कार्यों में सक्रिय रूप से भाग लेते हैं।
(ब) शिक्षक कक्षा में होने वाली सभी घटनाओं व बच्चों को पूर्ण रूप से नियन्त्रित करता है।
(स) वे पाठ्य-पुस्तक में दिए गए तथ्यों को याद करते हैं।
(द) वे श्यामपट्ट पर अध्यापक के द्वारा लिखे गए उत्तरों की नकल करते हैं।
View Solution

35. बच्चों की गलतियाँ
(अ) शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में महत्त्वहीन हैं
(ब) प्रदर्शित करती हैं कि बच्चे कितने लापरवाह हैं
(स) बार-बार अभ्यास करने के लिए कहकर तुरन्त सुधार देनी चाहिए
(द) अधिगम प्रक्रिया का एक भाग है जो उनके विचारों को एक अन्तर्दृष्टि देती है।
View Solution

36. विद्यार्थियों को स्पष्ट उदाहरण एवं गैर-उदाहरण देने के क्या परिणाम हैं?
(अ) अवधारणात्मक परिवर्तनों को प्रोत्साहित करने के लिए यह एक प्रभावशाली तरीका है।
(ब) यह विद्यार्थियों के मस्तिष्क में भ्रान्तियाँ उत्पन्न करता है।
(स) यह अवधारणाओं की समझ में अभाव पैदा करता है।
(द) यह अवधारणात्मक समझ के बजाय कार्यविधिक/प्रक्रियात्मक ज्ञान पर ध्यान केन्द्रित करता है।
View Solution

37. बच्चों को सीखने में कठिनाई होती है, जब
(अ) अधिगम सामाजिक सन्दर्भ में हो।
(ब) विषय-वस्तु को बहुरूपों में प्रस्तुत किया गया हो।
(स) सूचना अलग-अलग टुकड़ों में प्रस्तुत की जाए।
(द) वो आन्तरिक रूप से अभिप्रेरित हों।
View Solution

38. अधिगम के लिए निम्न में से कौन-सी धारणा उपयुक्त है?
(अ) प्रयासों से कोई फर्क नहीं पड़ता।
(ब) असफलता अनियन्त्रित है।
(स) योग्यता सुधार्य है।
(द) योग्यता अटल है।
View Solution

39. कथन (A) विद्यालय में अधिगम बच्चों के सामाजिक सन्दर्भों से निर्लिप्त होना चाहिए।
तर्क (R) विद्यालय में प्रवेश से पहले ही छात्रों के पास सुपरिभाषित शब्द भण्डार और प्रत्ययों की समझ होती है।
दिए गए विकल्पों में से उपयुक्त का चुनाव कीजिए 

(अ) (A) और (R) दोनों सही हैं तथा (R), (A) की सही व्याख्या करता है।
(ब) (A) और (R) दोनों सही हैं तथा (R), (A) की सही व्याख्या नहीं करता है।
(स) (A) सही है, किन्तु (R) गलत है।
(द) (A) गलत है, किन्तु (R) सही है।
View Solution

40. बच्चों द्वारा की गई त्रुटियाँ क्या दर्शाती हैं?
(अ) उनकी ज्ञान प्रजनन की अक्षमता
(ब) बच्चों की चिंतन प्रक्रिया जो वयस्कों से गुणात्मक रूप से अलग है
(स) कम क्षमता
(द) निम्न बुद्धि
View Solution

41. अधिगम अधिक सार्थक और प्रभावशाली होता है, यदि वह मुख्यत: …….. हो।
(अ) शिक्षक-निर्देशित
(ब) स्व-निर्देशित
(स) सहपाठियों द्वारा निर्देशित
(द) पाठ्य-पुस्तक केन्द्रित
View Solution

42. निम्नलिखित में से कौन-सा विकल्प छात्रों को महारत हासिल करने हेतु सीखने के लिए प्रेरित करेगा? 
(अ) धन की चाह
(ब) योग्यता की चाह
(स) सत्ता की चाह
(द) प्रसिद्धि की चाह
View Solution

43. किस तरह के प्रश्न पूछकर बच्चों में समालोचनात्मक सोच को बढ़ावा दिया जा सकता है?
(अ) वन अधिकार अधिनियम किस वर्ष पारित किया गया था?
(ब) त्रिभुज के तीनों कोणों का योग क्या होता है?
(स) पृथ्वी के वायुमंडल की विभिन्न परतों के नाम लिखिए।
(द) बीजों को अंकुरण के लिए हवा की आवश्यकता होती है, सिद्ध करने के लिए एक प्रयोग की रूपरेखा तैयार कीजिए
View Solution

44. विद्यार्थियों के बीच भ्रान्तियाँ उनके बारे में क्या बतलाती हैं? 
(अ) गम्भीर संज्ञानात्मक कमियाँ  और तंत्रिका सम्बन्धी विकार।
(ब) अत्यंत गलत और तर्कहीन सोच प्रक्रिया।
(स) अवधारणाओं के बारे में सरल और सहज समझ।
(द) उच्च-क्रम की भावनात्मक और बौद्धिक क्षमताएँ।
View Solution

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × four =

error: Content is protected !!
Scroll to Top